क्या है प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी कौन से क्रिप्टोकरेंसी हैं प्राइवेट जानिए हिंदी में

 


क्या है प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी ?

प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी हाल ही में बहुत प्रसिद्ध हो रहा है। आखिर कौन सी करेंसी प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसीज है हाल ही में गवर्नमेंट बिल में यह बताया है कि आरबीआई के द्वारा प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसीज पर बैन लगा दिया जाएगा तो जानते हैं कि प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी क्या है।

ऐसी क्रिप्टोकरंसी जो कि किसी कंपनी के द्वारा बनाई गई है या कोई आदमी ने क्रिएट की है ऐसी क्रिप्टोकरेंसी को प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी कहां जा सकता हैं। सरकार इन क्रिप्टोकरंसी पर बैन क्यों लगाना चाहती है तो उसके बहुत कारण है वह आप पढ़ सकते हैं हमारे इस आर्टिकल में।

सरकार क्यों लगाना चाहती हैं प्राईवेट क्रिप्टोकरेंसी पर बैन 

भारत सरकार क्यो क्रिप्टोकरेंसी पर बैन लगाना चाहती है इसके अनेक कारण हो सकते हैं जिससे कि देश में गलत बातें फैलती हैं जैसे कि आप इसमें रातो रात अमीर बन सकते हैं और यह बहुत खतरनाक साबित हो सकते हैं क्योंकि यह बिना किसी संस्था के रेगुलेट की जा रही है मार्केट में और इसका कोई संचालक नहीं है जैसे मनी यानी कैश को आरबीआई कंट्रोल करता है वैसे इसका कोई कंट्रोलर नहीं है इसलिए इसका बहुत गलत जगह पर प्रयोग किया जा सकता है और इस गलत प्रयोग न किया जा सके इसलिए भारत सरकार इसे रेगुलेट करने की कोशिश करेगी।

पहला बड़ा कारण इसका यह भी हो सकता है कि इसका टेररिस्ट फंडिंग में इस्तेमाल किया जा सकता है जो कि देश के लिए बहुत खतरनाक साबित हो सकता है।

दूसरा इससे युवक बहुत ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं कि वह रातो रात अमीर बन जाएंगे इससे कई बार उनका पैसा डूब भी जाता है।

ऐसे ही अनेक कारणों से भारत सरकार इस क्रिप्टोकरंसी को बैन करना चाहती है लेकिन बहन नहीं कर सकते क्योंकि वह इसे अब रेगुलेट करेंगे एक नई तरीके में और वह आरबीआई डिजाइन कर रहा है इसका फ्रेमवर्क ताकि यह भारत के बाजार में अच्छे से रेगुलेट हो पाए।

इसका सबसे बड़ा उदाहरण है Squid game Token (sgt) यह एक क्रिप्टोकरंसी है जो कि वेब सीरीज से प्रभावित होकर बनाई गई है इस करेंसी को थोड़े ही दिन हुए थे लॉन्च हुए को और इसका प्राइस लगभग $2000 के आसपास पहुंच गया था इससे युवकों ने देखा कि इसमें निवेश करने से फायदा होगा और उन्होंने ऐसा ही किया।

लेकिन जिस व्यक्ति ने इस क्रिप्टोकरंसी को बनाया था उसने इसके अंदर कुछ स्कैम कर दिया जिससे कि इसका प्राइस $1 के नीचे आ गया और इससे मार्केट में बहुत बड़ा लॉस हुआ और यह क्रिप्टोकरंसी का सबसे बड़ा स्कैम है

भारत सरकार इसीलिए क्रिप्टोकरंसी के ऊपर नियम लाना चाहती है ताकि ऐसे क्रिप्टोकरंसी बाजार में ना आ सके और ऐसे ही स्कैम से सरकार हमें बचाना चाहती है और क्रिप्टोकरंसी का सही इस्तेमाल हो इसलिए सरकार इस पर चर्चा कर रही है।

कौन से करेंसी शामिल है प्राइवेट क्रिप्टोकरंसी में

इस लिस्ट में शामिल होने वाले प्राइवेट क्रिप्टोकरंसी जैसे कि Meme coins, Metaverse coins और Gaming coins ऐसे अनेक क्रिप्टोकरंसी जो कि प्राइवेट है अभी इसका पूरा निर्णय नहीं लिया गया है भारत सरकार द्वारा कि कौन से क्रिप्टोकरंसी प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसीज हैं।

हमारी टीम ने थोड़ी सी रिसर्च की और हमें यह पता चला यह है कि Meme coins, Metaverse coins जैसे करेंसी आने वाले समय में बैन हो सकते हैं क्योंकि यह एक प्राइवेट क्रिप्टोकरंसी में आते हैं यह कंपनीज के द्वारा बनाए गए क्रिप्टोकरंसी हैं।

Crypto bill 2021 में क्या लिखा है

हमारी रिसर्च के अनुसार हमें यह पता चला है कि स्क्रिप्ट दिल में यह लिखा है कि आरबीआई के द्वारा क्रिप्टोकरंसी अब रेगुलेट की जाएगी और जो प्राइवेट करेंसी से उन्हें आरबीआई रोकेगा बाजार में चलने से और आरबीआई अब क्रिप्टोकरंसी को खुद रेगुलेट करेगा और अपनी खुद की करेंसी भी ला सकता है प्राइवेट क्रिप्टोकरंसी पर बैन भी लग सकता है।

क्रिप्टोकरेंसी के निवेशकों का क्या होगा 

अगर भारत सरकार आने वाले समय में क्रिप्टोकरंसी पर बैन लगा देती है तो क्रिप्टोकरंसी के निवेशकों का क्या होगा या भारत सरकार खुद निर्णय करेगा या उन्हें समय देगा कि वह अपनी क्रिप्टोकरंसी इसको बेच दें और उन्हें एक निर्धारित समय भी दिया जाएगा कि इन इस समय के बीच में वह अपनी क्रिप्टोकरंसी को बेच दें और उन्हें कोई नुकसान ना हो अगर बंद हो जाता है क्रिप्टोकरसी इंडिया में
 तो इससे इंडिया के मार्केट में बहुत ज्यादा लॉस होगा और क्रिप्टो करेंसी की वैल्यू बहुत ज्यादा नीचे आ जाएगी जैसे इस बिटकॉइन का रेट गिर जाएगा अगर बिटकॉइन का रेट गिरता है तो पूरी क्रिप्टोकरंसी मार्केट क्रैश हो सकती है

अगर आप बिटकॉइन जैसी करेंसी को खरीदने की सोच रहे हैं तो अभी मत खरीदिए क्योंकि वह बहुत ही ज्यादा हाई प्राइस है और अगर आने वाले समय में इस पर कोई नियम आ जाता है तो आपको नुकसान भी हो सकता है उस कानून से तो इसलिए अभी आप बिटकॉइन जैसी करेंसी को ना खरीदें अगर आप खरीदना चाहते हैं तो crypto बिल आने के बाद ही खरीदें क्योंकि आपको फिर पता चल जाएगा कि हम इसे खरीदना चाहिए या नहीं खरीदना चाहिए